बागबानी के लिए धनराशि

 

हेतु

आम, चीकू, अमरूद, अंगूर, अनार, सेब, लीची ईत्यादि फलोद्यानो के विकास के लिए तथा कम अवधि की फलों की फसलें (केले, अन्ननास वगैरा), खुले और हरे घरो में फूल (गुलाब, कार्नेशन, क्रायसेंथेमम्स, जास्मिन वगैरा) और सब्जियों की फसलें (आलू, टमाटर, बैंगन, कद्दू, मटर वगैरा) के विकास के लिए लोन दी जाती है.

 

मुद्दती लोन के लिए कौन योग्य ह

उपज के योग्य जमीन वाले सभी किसान.

लोन राशि रू.50,000/- तक. संपत्ति/परियोजना कीमत का 100% लोन के रूप में दिया जाता है.
रू.50,000/-से उपर. संपत्ति/परियोजना कीमत का 85% लोन के रूप में दिया जाता है. कम मुद्दत की लोन के लिए हमारी फसल लोन/किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लोन दी जाती है और इस योजना के तहत लागू होनेवाली शर्तें इन लोन के लिए भी लागू होती है. लंबी मुद्दत की लोन के लिए अन्य आवश्यकताएं नीचे दी गई है.
आप को कौन से कागजात देने है
फलोद्यान विकास के लिए आपको निम्नलिखित कागजात पेश करने है
  1. पानी और जमीन परीक्षण रिपोर्ट
  2. स्थानिक बागबानी विभाग की ओर से व्यवहार्यता का प्रमाणपत्र.
  3. जमीनी रिकोर्ड
  4. जो खर्च होने वाला है उसका निवेदित भाव/अंदाज.
  5. अगर परियोजना रिपोर्ट से बडी है.

 

लोन की अदायगी

सामान्यत: आपकी दरखास्त में स्थापित समय-सारणी के अनुसार अदायगी सीधे सप्लायर को की जाती है.

 

सुरक्षा

लोन राशि

प्रदान की जानेवाली सुरक्षा

रू.50,000/- तक

निर्मित संपत्तियो की भाराक्रांति

रू.50,000 से ज्यादा और रू.1 लाख तक

1. निर्मित संपत्तियो की भाराक्रांति
2. जमीन गिरवी रखना या तीसरे पक्षकार की गैरंटी

रू. 1 लाख से उपर

c) 1. निर्मित संपत्तियो की भाराक्रांति
2. जमीन गिरवी रखना

आप पुन:भुगतान कैसे करेंगे

विभिन्न फसलों के लिए 4 से 7 साल की सगार्भता अवधि के पूर्ण होने के बाद लोन का पुन:भुगतान शुरू होता है. फसल जब आर्थिक उपज देती है उस समय से पुन:भुगतान शुरु होता है और हर साल प्रत्येक फसल से होनेवाले आमदनी के निर्माण से यह जुडा हुआ है और उसकी अवधि 7 से 12 साल के बीच में है.

इस लोन के लिए कैसे आवेदन दे

आप आवेदन के लिए हमारी सबसे नजदीकी शाखा का संपर्क कर सकते है या आपके गाँव की मुलाकात लेने वाले विपणन अधिकारीयों से भी बात कर सकते है और जमीन के कागजात पेश कर सकते है.